तकनीकी समाचार

(13/Jul/2015)

टच स्क्रीन वाले स्मार्ट कपड़े

गूगल अब ऐसे स्मार्ट कपड़े लेकर आई जो टचस्क्रीन की तरह काम करते हैं। इन कपड़ों के रेशों में सेंसर लगे हैं जिनके तहत इन्हें अन्य गैजेट्स से कनेक्ट कर उन्हें ऑपरेट किया जा सकता है। ये कपड़े टच सेंसटिव हैं तथा इस प्रोजेक्ट का नाम इस फेब्रिक को बनाने वाले फ्रेंच इन्वेंटर के नाम पर रखा गया है। स्मार्ट कपड़े बनाने वाले प्रोजेक्ट की टीम के सदस्य ऐमरे कारागोजलर का कहना है कि वो इंटरेक्टिव टैक्सटाइल बना रहे हैं। इन कपड़ों को कंडक्टिव धागों को बुन कर बनाया जा रहा है। 

 

भारत को चाहिए 70 सुपर कम्प्यूटर

सरकार ने देश में 70 सुपर कम्प्यूटरों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं। इससे सरकारी और निजी क्षेत्र की एजेंसियां विभिन्न क्षेत्रों में उच्च स्तरीय अनुसंधान कार्य कर सकेंगी। भारत में परम श्रेणी के सुपर कम्प्यूटर्स समेत इस समय 7 कंपनियों के लगभग 15 सुपर कम्प्यूटर्स है जो जरूरत के अनुसार कम है। सुपर कम्प्यूटर से भारत में मौसम, जलवायु, रक्षा और अन्य क्षेत्रों में अनुसंधान कार्य में मदद मिलेगी। ये कम्प्यूटर आधा पेटाफ्लॉप से 20 पेटाफ्लॉप तक की गति से कार्य करने में सक्षम होंगे, लेकिन समय और परियोजना के उच्चतम स्तर तक पहुंचने के साथ ही ये कम्प्यूटर 50 पेटाफ्लॉप तक की गति से काम कर सकेंगे। एक पेटाफ्लॉप की गणना कम्प्यूटर की प्रोसेसिंग स्पीड से की जाती है।

संभलकर बेचें अपना स्मार्टफोन, वरना जा सकते हैं जेल

यदि आप अपने पुराने स्मार्टफोन से ऊब गए हैं और नया मोबाइल खरीदने से पहले उसे बेचना चाहते हैं, तो आपके लिए एक चेतावनी है। दरअसल, पुराने फोन से भी आपके यूजर डेटा चोरी हो सकते हैं। एक टेक्नॉलॉजी वेबसाइट ‘टेकवीकयूरोप डॉट को डॉट यूके’ के अनुसार, कैम्ब्रिज विष्वविद्यालय के शोधकर्ताओं की ओर से किए गए हालिया अध्ययन में पाया गया है कि एंड्रॉयड पर चलने वाले पुराने फोन से उसके पुराने ओनर के डेटा हासिल किए जा सकते हैं। रिसर्चर्स ने बताया कि स्मार्टफोन को भले ही पूरी तरह डिस्क एनक्रिप्शन के जरिए सुरक्षित किया गया हो, इसके बावजूद ऐसे डेटा हासिल किए जा सकते हैं। एंड्रॉयड पर चलने वाले ज्यादातर स्मार्टफोन में यूजर डेटा, जिसमें एक्सेस टोकन, मैसेज, इमेज और अन्य सामग्री डिलीट करने का विकल्प सहज नहीं होता। तकनीकी विशेषज्ञ भी अब तक इसे लेकर चिंता जताते रहे हैं कि स्मार्टफोन से यूजर डेटा डिलीट करना बेहद कठिन होता है। अध्ययनकर्ताओं ने एंड्रॉयड पर चलने वाले पांच कंपनियों के 21 सैकंड-हैंड स्मार्टफोन का परीक्षण किया, जिनके तमाम डेटा फैक्टरी रीसेट सैटिंग ने डिलीट कर दिए गए थे।

सावधान! आपके पर्सनल डेटा लीक कर है ये ब्राउजर

चीन और भारत समेत दुनिया के कई देशों में पॉपुलर हो चुका यूसी ब्राउजर आपकी प्राइवेसी के लिए खतरा बन सकता है। कनाड़ा की एक तकनीकी रिसर्च फर्म ने इस बात का खुलासा किया है। इस रिसर्च फर्म सिटीजन लैब ने कहा है अलीबाबा द्वारा अधिग्रहीत न्ब् ठतवूेमत यूजर्स के फोन नंबर समेत अन्य कई तरह की जानिकारियां थर्ड पार्टियों को उपलब्ध करवा रहा है। सिटीजन लैब के मुताबिक यूसी ब्राउजर के यूजर से संबंधित प्राइवेसी प्रोटेक्शन सिस्टम में कमियां है। इन कमियों के चलते थर्ड पार्टियां बहुत ही आसानी यूजर्स के फोन नंबर, सर्च डिटेल, मोबाइल सब्सक्राइबर तथा डिवाइस नंबर आदि की जानकारी हासिल कर लेती है। सिटीजन लैब के अनुसार यूसी ब्राउजर के पूरी दुनिया में 500 मिलियन से भी ज्यादा रजिस्टर्ड यूजर है। इसके चलते यह दुनिया के प्रमुख वेब ब्राउजर्स में आता है। गौरतलब है कि यह ब्राउजर दुनिया में सबसे ज्यादा चीन और भारत में उपयोग में लिया जाता है। हालांकि अलीबाबा की ओर से कहा गया है इन कमियों को जल्द से जल्द ठीक किया जाएगा।